घर की ये चीजें आपको कर सकती हैं बीमार Other, स्वास्थ्य

घर की साफ-सफाई का हम हमेशा ख्याल रखते हैं, मगर 71 प्रतिशत लोग रोजाना इस्तेमाल किए जाने वाले होम एप्लायंसेज (घरेलू उपकरणों) की साफ-सफाई की तरफ ज्यादा गंभीर नहीं होते हैं। एक एप्लायंसेज वेबसाइट के सर्वे के अनुसार लोग वॉशिंग मशीन (कपड़े धोने की मशीन) को साल में एक बार, डिश वॉसर (बर्तन धोने की मशीन) को साल में तीन बार, माइक्रोवेव को साल में दो बार और फ्रिज को साल में सिर्फ आठ बार ही साफ करते हैं। जो कि काफी कम है और इसमें पनपने वाले गंदे कीटाणु और फंगस पेट दर्द और चर्म संक्रमण जैसी गंभीर बीमारियों का कारण बन सकते हैं।

आइए जानते हैं घर की कौन-सी चीज की पर्याप्त साफ-सफाई नहीं करना हमारी सेहत के लिए खतरनाक हो सकता है।

फ्रिज
कई शोध के मुताबिक ई.कोली, साल्मोनेला और लिस्टरिया फ्रिज में पनप सकते हैं, जो कि विषाक्त भोजन, पेट दर्द का कारण बन सकते हैं। साथ ही यह बात भी सामने आई है कि फ्रिज में सलाद रखने वाली जगह खतरनाक बैक्टीरिया के लिए 750 गुना आरामदायक जगह होती है।
वॉशिंग मशीन
घर में कपड़े धोने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली 44 प्रतिशत वॉशिंग मशीन में ई.कोली और स्टेफिलोकोकस ऑरियस जैसे बैक्टीरिया पैदा हो सकते हैं। जिससे आपको त्वचा पर जलन, फोड़े-फुंसी और चकत्ते की समस्या हो सकती है। कई बार ये बीमारियां खतरनाक रूप ले लेती हैं और काफी समय तक परेशान करती हैं।

डिश वॉशर
अधिकतर लोग डिश वॉशर को उच्च तापमान पर इस्तेमाल करते हैं, लेकिन इसके बावजूद भी स्यूडोमोनास और एसिनेटोबैक्टर जैसे हानिकारक बैक्टीरिया आसानी से मिल जाते हैं। जिस वजह से लोगों में फंगल संक्रमण और रोग प्रतिरोधक क्षमता प्रभावित हो सकती है। साथ ही कई बार इन उपकरणों में खाने के कण रह जाते हैं, जिस वजह से बर्तन पूरे साफ नहीं हो पाते और कई लोगों में सांस संबंधी परेशानी भी पैदा करते हैं।
माइक्रोवेव
खाद्य पदार्थों से बैक्टीरिया को विकसित होने के लिए पोषण मिलता है। इसलिए माइक्रोवेव में ई.कोली और साल्मोनेला जैसे बैक्टीरिया मिलने संभावना अधिक होती है। जिससे चर्म रोग और पेट दर्द जैसी समस्याएं हो सकती हैं।

इन चीजों की साफ-सफाई में सावधानी बरतें
ध्यान रहे कि इन चीजों की साफ-सफाई करते हुए गुनगुने पानी का इस्तेमाल करें, क्योंकि इससे कीटाणु और बैक्टीरिया मर जाते हैं। इसके साथ ही उपकरण की नियमित सफाई करें और हर हिस्से को साफ रखें। उपकरणों में नमी ना होने दें, इसलिए धोने के बाद अच्छी तरह सूखने दें, क्योंकि नमी वाले वातावरण में वह आसानी से पनप जाते हैं।

Leave a Reply