पुण्यतिथि: इन खूबसूरत नग्मों से हमेशा दिलों में जिंदा रहेंगे सुरों के बादशाह मोहम्मद रफी साहब Other, मनोरंजन

सुरों के बादशाह मोहम्मद रफी साहब की आज पुण्यतिथि है। शहंशाह-ए-तरन्नुम के नाम से जाने जाने वाले मोहम्मद रफी को गुजरे आज 38 बरस पूरे हो गए हैं। आज के ही दिन रफी ने दुनिया को अलविदा कहा था। आइए आज सुनते हैं रफी साहब की बरसी पर उनके खूबसूरत नग्मों को जो आज भी लोगों के दिलों पर राज करते हैं।  

आज बेशक वह हमारे बीच मौजूद नहीं हैं, लेकिन उनकी खूबसूरत नग्में आज भी उनकी यादों को ताजा कर देते हैं। उनके गाने आज भी अक्सर लोगों की जुबां से सुनने को मिल जाता है।

उनके मधूर गानों से फिल्मी गलियारों में आज भी चमक बरकरार है। रफी साहब बॉलीवुड का कोहिनूर कहा जाता है। जिसकी चमक वक्त के साथ बढ़ती ही जा रही है। 

वैसे रफी जितने गानों से लोगों का जीत लिया करते थे ठीक उसी तरह वह अपनी बहादुरी और दरियादिली के लिए फेमस थे।

रफी जी के जीवन से जुड़ी एक रोचक बातें सामने आई थी लेकिन एक ऐसा फैक्ट सामने जिसे जानने के बाद से पूरी दुनिया शॉक्ड हो गई थी।

यह बात  1962 की है। जब भारत और चीन के बीच जंग लड़ी गई थी। उस समय मोहम्मद रफी ने चीन के खिलाफ अपने गीतों से जंग लड़ी थी। दरअसल, मोहम्मद रफी चीन के खिलाफ युद्ध लड़ रहे भारतीय सैनिकों का हौसला बढ़ाने के लिए जंग के मैदान पर गए थे।

रफी की जीवनी के मुताबिक, चीन ने जब हिंदुस्तान पर हमला किया तो रफी चौदह हजार फुट की ऊंचाई स्थित सांगला गए थे और देशभक्ति के गीत गाकर सैनिकों का हौसला बढ़ाया था। 

Leave a Reply