सावन की पहली सोमवारी आज, सुरक्षा के विशेष प्रबंध के साथ सजे शिवालय बिहार

सावन की पहली सोमवारी पर पूरा शहर शिवमय हो गया है। शहर के सभी शिव मंदिरों को आकर्षक ढंग से सजाया गया है। हर-हर महादेव के जयघोष होने लगे हैं। बाबा भोले के शृंगार के लिए विशेष व्यवस्था की गई है। बाबा भोले के जलाभिषेक के लिए श्रद्धालु भी उत्साहित हैं।

मंदिरों में सबसे पहले पंडितों द्वारा पूजा-अर्चना की जाएगी। इसके बाद भक्तों की ओर से जलाभिषेक किया जाएगा। गंगाजल भरकर श्रद्धालु बाबा बूढ़ानाथ मंदिर, कुपेश्वर नाथ मंदिर, भूतनाथ मंदिर, शिवशक्ति मंदिर, मनसकामनाथ मंदिर, एसमएम कॉलेज रोड स्थित मंदिर, सबौर चौक शिव मंदिर सहित शिव मंदिरों में जलाभिषेक करेंगे। 

सीसीटीवी से होगी संदिग्धों की निगरानी 
पहली सोमवारी पर मंदिरों में होनेवाली भीड़ को लेकर पुलिस-प्रशासन की ओर से विशेष व्यवस्था की गई है। सभी प्रमुख मंदिरों में पुलिसकर्मियों के अलावा दंडाधिकारी की तैनाती भी की गई है। संदिग्धों पर नजर रखने के लिए सीसीटीवी लगाए गए हैं। जहां पहले से सीसीटीवी लगे थे लेकिन काम नहीं कर रहे थे, उसे भी दुरुस्त करा लिया गया है। बूढ़ानाथ मंदिर और शिवशक्ति मंदिर में विशेष इंतजाम किए गए हैं। 

भगवान भोले का होगा रूद्राभिषेक
सभी मंदिरों में शाम में भगवान भोले का गंगाजल, दूध, बेलपत्र, मधु, फूल, दही, पंचामृत आदि तत्वों से रुद्राभिषेक और भव्य शृंगार होगा। 

सावन में चार सोमवारी इस वर्ष 
सावन माह में इस बार चार सोमवारी होगी। पहली सोमवार 30 जुलाई को, दूसरी छह अगस्त को और तीसरी सोमवारी 13 अगस्त को है। चौथी और सावन की अंतिम सोमवारी 20 अगस्त को है। 26 अगस्त को सावन का आखिरी दिन है। 

Leave a Reply